अराजकता : “गौरी लंकेश की हत्या के बाद, अब महिला पत्रकार राणा अय्यूब को हिंदूवादी संगठनों द्वारा जान से मारने की धमकी”

0
49


महिला पत्रकार राणा अय्यूब को जान का बहुत खतरा है। इस बात का इजहार यूनाइटेड नेशन ह्यूमन राइट के हाई कमीशन का भारतीय सरकार से मुतालबा है।

न्यूयॉर्क 25 मई यूनाइटेड नेशन के यूनाइटेड नेशन ह्यूमन राइट में भारतीय गवर्नमेंट से कहा है कि वह पत्रकार राणा अयूब को सिक्योरिटी दें और जल्द से जल्द उनकी सुरक्षा का कड़ा बंदोबस्त करें, जिनके खिलाफ ऑनलाइन नफरत की मुहिम के बाद उनको कत्ल करने की धमकियां दी जा रही है।

यूनाइटेड नेशन के हाई कमिश्नर इंसानी हकूक ने अपनी वेबसाइट पर एक पोस्ट जारी किया है, जिसमें माहरीन ने कहा है कि राणा अय्यूब को बहुत खतरा है और इस बात पर हमको गहरी चिंता है।

राणा अयूब एक साहसी और आज़ाद लेखक हैं जिन्होंने सरकारी अधिकारियों के जुर्म की तहकीकात की है माहरीन को जो मालूमात और सबूत मिले है उसके मुताबिक 20 अप्रैल को एक नफरत भरा झूठा ट्वीट सदेश फैलाया गया और गलत बात कही गई कि राणा अय्यूब ने बलात्कारियों की हिमायत की और कहा कि हिंदुस्तान में मुसलमान महफूज नहीं। उसके बारे मामला और गंभीर हो गया। ट्वीट की पब्लिसिटी के बाद राणा अयूब को बहुत धमकियां और मैसेज आ रहे हैं, जिसमें कहा गया है कि राणा अय्यूब का गैंगरेप कर दिया जाए। उनको कत्ल कर दिया जाए और इसमें उनके इस्लाम मजहब के बारे में भी बहुत कुछ कहा गया है।

एक सोशल नेटवर्क पर उनका फोन नंबर और घर का पता पोस्ट किया गया है। अभी उनको धमकियां मिल रही है, जबकि वह सफाई पेश कर चुकी हैं और जवाब दे चुकी हैं कि यह ट्वीट झूठा है और गलत है।

यूनाटेडनेशन के माहरीन ने कहा है कि तस्वीर और धमकियां देखने के बाद हमने महसूस किया है कि राणा अय्यूब की जिंदगी को खतरा है। माहरीन ने याद दिलाया कि सितंबर 2017 में एक दूसरी भारतीय लेखिका गौरी लंकेश का कत्ल हो चुका है, उनके साथ भी यही मामला हुआ था और उनको भी धमकियां देने के बाद जान से मार दिया गया।

माहरीन ने कहा कि एक फहश वीडियो में अयूब को दिखाया गया है जाली बनाकर जिसे ऑनलाइन बांटा जा रहा है उसके बाद उनके लिए नए खतरे पैदा हुए हैं। खबर के मुताबिक अय्यूब ने पुलिस से शिकायत की थी। 10 दिन बाद पुलिस ने छानबीन शुरू की और अब तक पुलिस की तरफ से कोई सुरक्षा प्रदान नहीं की गई है।

माहरीन ने कहा कि हम भारतीय सरकार से कहते हैं कि राणा अय्यूब को जल्द से जल्द सिक्योरिटी दी जाए और उनको मिलने वाली धमकियों की मुकम्मल जांच हो उन्होंने कहा कि सरकार का फर्ज है उन लोगों को अच्छी सुरक्षा मुहैया करवाएं जिनको जान से मारने की धमकियां मिल रही है और आम आदमी को आगे के खतरे से बचाए।

माहरीन ने यह भी कहा कि आजादाना राय रखने वाले हुकूमत पर नुक्ताचीनी करने वाले पत्रकारों की आवाज को महफूज किया जाए। उन्हें सुरक्षा दी जाए यह हुकूमत की जिम्मेदारी है। हम पहले हिंदुस्तानी हकुमत से ख्वाहिश जाहिर कर चुके हैं। इससे बचने की लिए रोकथाम के लिए बेहतर कदम उठाए जो पिछले कई सालों में बहुत ज्यादा खराब हो चुके हैं और दुश्मनी को हवा दे रही है, खासतौर पर उनके लिए बहुत ही मुश्किल में है और बहुत ही मुश्किल दौर है जो मीडिया से जुड़े हैं और आजादी से अपनी बात रखते हैं और इजहार करते हैं।


Facebook Comments

NO COMMENTS