अर्दोगान बोले, “मुसलमानों ने येरूश्लम पर लापरवाही दिखाई तो मक्का और मदीना भी नहीं बचा पाएंगे”

0
23

तुर्की के राष्ट्रपति रजब तैय्यब अर्दोगान ने चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर मुसलमानों ने येरूश्लम के बारे में कोई लापरवाही दिखाई तो मक्का भी उनके हाथों से निकल सकता है।

Image result for jerusalem marching against trump

अर्दोगान ने कहा कि “अगर हमने येरूश्लम (बैतुल मुक़द्दस) खो दिया तो हम मदीना को भी नहीं बचा पायेंगे। अगर मदीना हमारे हाथों से निकल गया तो हम मक्का भी नहीं बचा पायेंगे।”

तुर्की के राष्ट्रपति का कहना था कि येरूश्लम को इस्राईल की राजधानी के रूप में मान्यता देने के अमरीका के फ़ैसले को पलटना बहुत ज़रूरी है, अगर ऐसा नहीं हुआ तो हम इस्लाम के अन्य पवित्र स्थलों को भी खो बैठेंगे।

Image result for jerusalem marching against trump

अमरीकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रम्प के इस फ़ैसले का जहां विश्व भर में मुसमलान कड़ा विरोध कर रहे हैं, वहीं तुर्क राष्ट्रपति अर्दोगान ने भी ट्रम्प का खुलकर विरोध किया है। केवल इतना ही नहीं बल्कि उन्होंने उन मुस्लिम देशों की भी कड़ी निंदा की है, जिन्होंने ट्रम्प के इस फ़ैसले पर कमज़ोर प्रतिक्रिया जताई है।

शनिवार को अर्दोगान ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद से मांग की थी कि ट्रम्प के फ़ैसले को निरस्त कर दिया जाए। उनका कहना था कि अगर सुरक्षा परिषद इस बारे में कोई क़दम उठाने में नाकाम रहती है तो अमरीकी फ़ैसला का जवाब देने के लिए तुर्की को जो ज़रूरी होगा वह करेगा।

Image result for jerusalem marching against trump

ग़ौरतलब है कि मुस्लिम देशों के संगठन ओआईसी ने बुधवार को तुर्की के इस्तांबुल शहर में अमरीकी राष्ट्रपति डोन्लड ट्रम्प के इस फ़ैसले की निंदा करते हुए पूर्वी येरूश्लम को फ़िलिस्तीन की राजधानी घोषित किया था। संयुक्त राष्ट्र संघ पूर्वी येरूश्लम पर इस्राईल के क़ब्ज़े को अवैध मानता है।


Facebook Comments

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY