जाकिर नाइक के साथ खड़ा हुआ चीन : “रेड कॉर्नर नोटिस नहीं जारी करने में किया अपने प्रभाव का इस्तेमाल “

0
317


भारत सरकार अब जाकिर नाइक के प्रत्यर्पण के लिए मलेशियाई सरकार को औपचारिक आवेदन देने जा रही है।

समाचार पत्र इंडियन एक्सप्रेस के अनुसार चीन ने अपने प्रभाव का इस्तेमाल कर जाकिर नाइक के खिलाफ रेड कॉनर्र नोटिस को जारी नहीं होने दिया है। इस्लामी उपदेशक जाकिर नाइक को एनआईए ने आतंकी गतिविधियों को बढ़ावा देने का आरोप है।

बता दें कि रेड कॉर्नर नोटिस इंटरपोल द्वारा जारी किया जाता है। इंटरपोल अंतर्राष्ट्रीय पुलिस संगठन है। वर्तमान में इंटरपोल के मुखिया मेंग होंगवेई चीनी नागरिक हैं और वह चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग के विश्वास पात्र हैं।

रिपोर्ट के मुताबकि जाकिर नाइक के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस को रुकवाने में मेंग होंगवेई की अहम भूमिका रही है। इससे पहले चीन संयुक्त राष्ट्र में पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के मुखिया मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित करवाने की भारत की कोशिशों पर पानी फेर चुका है।

भारत ने संयुक्त राष्ट्र जब इस प्रस्ताव को लाया तो सउदी अरब भी भारत के पक्ष में था लेकिन 15 देशों के इस समूह में चीन ने भारत के प्रस्ताव का विरोध किया था।

रिपोर्ट्स के मुताबिक जाकिर नाइक इस वक्त मलेशिया में है। भारत की एजेंसियों को शक है कि जाकिर नाइक के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस ना जारी होने देने में मलेशियाई सरकार का भी रोल है। माना जा रहा है कि इंटरपोल में मलेशिया ने जाकिर नाइक के पक्ष में पैरवी की है।

मलेशियाई सरकार का मानना है कि उनके देश में कुछ साल पहले लोकतंत्र के समर्थन में हुई रैलियों और आंदोलन में भारत का हाथ है। मलेशिया में जाकिर नाइक को शरण दिये जाने की ये भी वजह हो सकती है। भारत सरकार अब जाकिर नाइक के प्रत्यर्पण के लिए मलेशियाई सरकार को औपचारिक आवेदन देने जा रही है।

बता दें कि जब चीन को अपने देश के उइगर चरमपंथियों को गिरफ्तार करवाने की जरूरत पड़ी तो मेंग होंगवेई ने बढ़ चढ़ कर काम किया। चीन ने लगभग दर्जन भर उइगर चरमपंथियों के खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस जारी करवाया था। तब इंटरपोल अध्यक्ष मेंग होंगवेई ने मिस्र में मौजूद इन लोगों को तुरंत गिरफ्तार करवा दिया।

एनआईए का मानना है कि इंटरपोल ने जाकिर नाइक के खिलाफ रेड कॉर्नर इसलिए नहीं किया क्योंकि भारत ने जब ये अपील की थी तो जाकिर पर चार्जशीट ही फाइल नहीं हुई थी। अब एनआईए नये सिरे से नोटिस जारी करेगी क्योंकि अब मुंबई कोर्ट में आरोप पत्र दायर किया जा चुका है।


 

Facebook Comments

NO COMMENTS