नाराज नितिन पटेल को हार्दिक ने कांग्रेस में शामिल होने का दिया ऑफर

0
14

गुजरात की सत्ता पर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) बहुमत से काबिज हो गई है, लेकिन रूपाणी कैबिनेट में दरार पड़ती दिख रही है। सूत्रों की माने तो राज्य के उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल वित्त मंत्रालय और शहरी विकास मंत्रालय छिन जाने से नाराज हैं और उन्होंने इस्तीफा देने की धमकी भी दी है।

इस माहौल के बीच पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने नितिन पटेल के सामने ऑफर रख दिया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक एक सभा में हार्दिक ने नितिन पटेल से कहा है कि वे बीजेपी को छोड़कर कांग्रेस का हाथ थाम सकते हैं।

पाटीदार नेता ने कहा है कि वे नितिन पटेल के लिए कांग्रेस पार्टी से बात करेंगे ताकि उन्हें सही जगह मिले और उनके साख पर कोई सवाल ना उठे। हार्दिक ने बताया, ‘अगर नितिन भाई 10 विधायकों के संग बीजेपी छोड़ने को तैयार हो जाते हैं, तो हम कांग्रेस में उन्हें उपयुक्त पद देने की बात करेंगे। हार्दिक ने ये बातें बोटाड में पाटीदार अनामत आंदोलन समिति की बैठक से पहले कहीं।

नितिन पटेल इससे पहले भी राज्य के उपमुख्यमंत्री रहे हैं, पर इस बार राजस्व, शहरी और वित्त मंत्रालय छिन जाने का मुद्दा उनके आत्म सम्मान तक पहुंच गया है। दरअसल, पद वित्त मंत्रालय नितिन पटेल के जूनियर सौरभ पटेल को दे दिया गया है और बाकी के दो मंत्रालय खुद सीएम विजय रूपाणी के पास हैं।

अब पटेल के पास मार्ग और मकान, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, चिकित्सा शिक्षा, नर्मदा, कल्पसर और राजधानी परियोजना जैसे विभाग हैं। इससे नितिन पटेल नाराज बताए जा रहे हैं। नितिन पटेल के नाराज होने की अटकलें उस वक्त भी साफ होती दिखी जब कैबिनेट ही पहली मीटिंग पटेल की वजह से 4 घंटे लेट शुरू हुई। इतना ही नहीं नितिन पटेल ने सरकारी वाहन का इस्तेमाल करना बंद कर दिया है और वे अपनी पर्सनल गाड़ी से आना जाना कर रहे हैं।

सूत्र बताते हैं कि सरकार में अनबन की एक और खबर है। वडोदरा से विधायक और पूर्व मंत्री राजेंद्र त्रिवेदी ने भी विरोध का झंडा बुलंद कर रखा है। उन्होंने मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री के सामने वडोदरा से एक भी विधायक को कैबिनेट में शामिल नहीं किए जाने पर नाराजगी जताई। उन्होंने 10 विधायकों के साथ पार्टी छोड़ने की धमकी भी दी है।


Facebook Comments

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY