पाकिस्तान : “पूर्व पीएम नवाज शरीफ और बेटी मरियम नवाज शरीफ लाहौर एयरपोर्ट पर उतरते ही गिरफ्तार”

0
35


पिछले हफ्ते ही नवाज़ शरीफ और उनकी बेटी मरियम को पाकिस्तान की एक अदालत ने लंदन के ऐवनफील्ड अपार्टमेंट मामले में दोषी ठहराया था और दोनों को क्रमशः 10 साल और 7 साल की सजा का एलान किया गया।

लाहौर। पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ को उनकी बेटी मरियम नवाज़ शरीफ के साथ लाहौर के अलामा इकबाल इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर गिरफ्तार कर लिया गया. लाहौर एयरपोर्ट से उन्हें प्रााइवेट जेट के जरिए इस्लामाबाद ले जाया जाएगा, यहां से उन्हें रावलपिंडी सेंट्रल जेल भेजा जा सकता है. नवाज शरीफ और मरियम शरीफ आज लंदन से अबुधाबी होते हुए लाहौर पहुंचे हैं. पाकिस्तान की एक अकाउंटिबिलिटी कोर्ट ने नवाज शरीफ को 10 साल और मरियम शरीफ को सात साल की सजा सुनाई है. पाकिस्तान में इसी महीने की 25 तारीख को आम चुनाव के लिए वोट डाले जाएंगे. मरियम लाहौर की सीट से चुनाव लड़ रही हैं.

10,000 से ज्यादा पुलिस बल तैनात थे एयरपोर्ट पर:
नवाज और उनकी बेटी की गिरफ्तारी के लिए तैयारी के तहत लाहौर में 10,000 पुलिस सैनिकों की तैनाती की गई थी. पीएमएल के समर्थकों को रोकने के लिए और किसी भी तरह के तनाव से निपटने के लिए भारी संख्या में सुरक्षा बलों को नियुक्त किया गया. इसके अलावा पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज़ (पीएमएल) के 300 कार्यकर्ताओं को भी पाकिस्तान में गिरफ्तार किया गया.

किसको कितनी सजा?
पिछले हफ्ते ही नवाज़ शरीफ और उनकी बेटी मरियम को पाकिस्तान की एक अदालत ने लंदन के ऐवनफील्ड अपार्टमेंट मामले में दोषी ठहराया था और दोनों को क्रमशः 10 साल और 7 साल की सजा का एलान किया था. अदालत ने मरियम के पति कैप्टन (रिटायर्ड) सफदर को भी एक साल जेल की सजा सुनाई है. अदालत के 100 पन्ने के फैसले में शरीफ पर एक करोड़ डॉलर का जुर्माना लगाया गया है जबकि उनकी बेटी मरियम पर 26 लाख डॉलर का जुर्माना लगाया गया है. पनामागेट में नवाज शरीफ के खिलाफ तीन केस दर्ज हैं, जिसमें से एक लंदन स्थित एवेनफील्ड अपार्टमेंट से जुड़ा है. इसी मामले में दोनों को सजा हुई है, अदालत ने इस अपार्टमेंट को भी जब्त करने के आदेश दिये हैं.

अब क्या करेंगे नवाज शरीफ?
कोर्ट के फैसले के बाद नवाज शरीफ के भाई शाहबाज शरीफ ने कहा कि चुनावों पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा. हमारे उम्मीदवार अन्याय की बातों को कैंपेन के दौरान उठाएंगे, हमें फैसले से निराशा हुई है. उन्होंने आगे के कदमों पर कहा, ”हम न्याय के लिए सभी कानूनी और संवैधानिक पहलुओं पर विचार करेंगे, नवाज शरीफ बहादुरी से लड़ेंगे.”


Facebook Comments

NO COMMENTS