प्रीती ज़िंटा और सहवाग की बातचीत बंद

0
3

किंग्स इलेवन पंजाब मंगलवार को जयपुर के सवाई मान सिंह स्टेडियम में राजस्थान रॉयल्स के हाथों 15 रन से हार गई थी। हालांकि इस हार से अंक तालिका में उसकी स्थिति पर कोई फर्क नहीं पड़ा, लेकिन फ्रेंचाइजी की सह-मालकिन प्रिटी जिंटा का मूड इतना खराब हो गया कि वे टीम के मेंटर वीरेंद्र सहवाग से मैदान पर ही सवाल-जवाब करने लगीं। इस घटना को हुए 3 दिन हो गए हैं, लेकिन दोनों के बीच में खटास अब भी दिख रही है। टीम कोलकाता नाइटराइडर्स के खिलाफ 12 मई को होने वाले मुकाबले के लिए इंदौर में है। सूत्रों का कहना है कि प्रिटी-सहवाग के बीच ना के बराबर ही बातचीत हो रही है। हालांकि, प्रिटी जिंटा ने ट्वीट कर एेसी खबरों को गलत बताया है।

सूत्रों की मानें तो जयपुर में मैदान पर जो कुछ हुआ उसकी शुरुआत 26 अप्रैल को हैदराबाद में ही हो गई थी। उस दिन किंग्स इलेवन पंजाब का सनराइजर्स हैदराबाद से मुकाबला था। मैच में हैदराबाद ने पहले खेलते हुए 132 रन बनाए। लक्ष्य कम होने के बावजूद पंजाब 19.2 ओवर में 119 रन पर ही ऑलआउट हो गई। इसके बाद प्रिटी ने सहवाग से बेहद तल्ख लहजे में बात की थी।

8 मई को राजस्थान के खिलाफ मिली हार ने मामले में आग में घी डालने का काम किया। राजस्थान के खिलाफ मैच में टीम मैनेजमेंट को उम्मीद थी कि 159 रन के लक्ष्य को टीम आसानी से हासिल कर लेगी, लेकिन वह 143 रन ही बना सकी। इसके बाद प्रिटी मैदान पर ही सहवाग से उलझ गईं।

प्रिटी ने अश्विन से लेकर अन्य खिलाड़ियों के बल्लेबाजी क्रम बदलने को लेकर सहवाग से सवाल जवाब किए। सूत्रों की मानें तो सहवाग ने उन्हें समझाने की बहुत कोशिश की, लेकिन वे चुप ही नहीं हो रही थीं। टीम की लगातार हार और गिरते प्रदर्शन के लिए वे सहवाग को ही दोषी ठहराए जा रहीं थीं।

बताया जा रहा है कि प्रिटी टीम के प्रदर्शन से नाराज हैं। वहीं सहवाग टीम प्लानिंग में प्रिटी के लगातार दखल से खफा हैं। पिछले मंगलवार को जयपुर में हुई बहस के बाद टीम प्रबंधन और अन्य मालिकों से साफ-साफ कह दिया था कि यदि प्रिटी टीम के गेम प्लान में इस तरह दखल देती रहीं तो वे इन परिस्थितियों में काम नहीं कर पाएंगे।

पंजाब टीम से जुड़े सूत्रों का कहना है कि प्रिटी और सहवाग के बीच चल रही तनातनी का असर टीम के खिलाड़ियों पर दिखने लगा है। सभी खिलाड़ी चिंतित हैं। कयास लगाए जा रहे हैं कि यदि सब कुछ जल्द ही ठीक नहीं हुआ तो संभव है कि अगले सीजन में सहवाग टीम का साथ ही छोड़ दें।


Facebook Comments

NO COMMENTS