बल्लेबाज़ों के लिए ‘खतरनाक खेल’ में बदल गया है जोहानिसबर्ग टेस्ट

0
5

जोहानिसबर्ग टेस्ट में दक्षिण अफ्रीका के सामने भारत ने 241 रनों का लक्ष्य रखा है। दक्षिण अफ्रीका 8.3 ओवर के बाद एक विकेट खोकर 17 रन बना चुकी है। लेकिन आज सवाल इस बात को लेकर खड़े हो रहा है कि आज मैच शुरू हो पाएगा या नहीं। क्योंकि अब पिच का मिजाज इतना बिगड़ चुका है कि तेज गेंदों को संभाल पाना बहुत मुश्किल हो रहा है और बल्लेबाजों को चोट खाने का खतरा पैदा हो गया है। कल भी पिच और बूंदाबादी की वजह से खेल रोक दिया गया था। सोशल मीडिया पर भी कई जगह लोग खिलाड़ियों को बचकर खेलने की सलाह दी है साथ ही दिवंगत क्रिकेटर फिलिप ह्यूज की भी याद दिलाई है।

दूसरी पारी में जब प्रोटियाज़ बल्लेबाज़ी करने उतरे तो पिच और भी खतरनाक बन गयी। पहले डीन एल्गर को पहले भुवनेश्वर कुमार की गेंद पर चोट लगी और फिर जसप्रीत बुमराह की ये गेंद उनके हेलमेटे से सीधी टकराई। इसके बाद खेल रोक दिया गया। अंपायर, मैच, रेफरी और कप्तान के बीच बातचीत के बीच बूंदाबांदी से दिन का खेल खत्म हो गया।

पिच के असमान उछाल के कारण बल्लेबाज़ चोटिल हो रहे थे और भारतीय फिज़ियो को कई बार मैदान पर बुलाना पड़ा। 46 रन पर अंजिंक्य रहाणे को कगीसो रबाडा की गेंद जा लगी तो अंपायरों से मैच रोकने पर विचार भी किया।


Facebook Comments

NO COMMENTS