“बोलने और सोचने के अधिकार का हनन : “क्यूँ हमें वही देखने और सुनने को बाध्य किया जा रहा है जो सरकार चाहती है????” – पूनम मिर्ची

0
8


आमिर खान की पत्नी किरन के सिर्फ ये कह देने भर से कि देश में असहिष्णुता को देखकर मुझे यहाँ रहने से डर लगता है…

तो भक्तगण और सरकार इतनी आहत हो गई कि lncredible lndia से आमिर को बाहर कर दिया….

Tata Sky को देखने वालों ने कनेक्शन कटवा दिए क्योंकि आमिर उसका प्रमोशन कर रहे थे…..

तो क्या अब सहिष्णुता बढ़ गई है???

क्यूँ बोलने के अधिकार का हनन हो रहा है????

क्यूँ हमें वही देखने और सुनने को बाध्य किया जा रहा है जो सरकार चाहती है????

क्यूँ हमारी घेराबंदी करी जा रही है कि हम सरकार के हिसाब से खबरें पढ़े और देखे????

क्यों हमें जबरन Blinkers (घोड़ों को पहनाया जाने वाला आँखों का साइड पट्टा) बाँघा जा रहा है????

क्यूँ एक ही दिशा में चलने और देखने को बाध्य किया जा रहा है????

ये एक बेहद खतरनाक साजिश है…

जिसके सूत्रधार खुद प्रधानमंत्री हैं और रही सही कमी नए राष्ट्रपति को मनोनीत करके कर दी जाएगी….


-पूनम मिर्ची

(पूनम लाल सोशल मीडिया पर विभिन्न सामाजिक और राजनीतिक मुद्दों पर अपनी बेबाक लेखनी के लिए जानी जाती हैं। पूनम लाल फेसबुक यूजर हैं और उन्होंने अपने फेसबुक इंट्रो में लिखा है ‘मेरे पास मेरी खुद की #अकड़ बहुत है ….इसलिए अपनी अकड़ अपने पास रखो’ । यह आलेख हमने उनकी फेसबुक वॉल से लिया है। यह अपने आलेख पूनम मिर्ची के लिखतीं हैं। )


 

Facebook Comments

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY