भक्ति का पुरस्कार : “सुप्रीम कोर्ट में तीन तलाक के खिलाफ याचिका दाखिल करने वालीं इशरत जहां BJP में शामिल”

0
157


सुप्रीम कोर्ट में तीन तलाक के खिलाफ याचिका दाखिल करने वालीं इशरत जहां BJP में शामिल हो गयी। शामिल होने के बाद बीजेपी महिला मोर्चा की अध्यक्ष दुर्गावती सिंह ने इशरत जहां के हाथों में पार्टी का झंडा थमाया। हावड़ा के वार्ड नंबर 17 के बीजेपी दफ्तर में महिला मोर्चा के नेताओं की अगुवाई में शामिल होने के बाद इशरत ने कहा कि इस पार्टी में शामिल होकर उन्हें अच्छा लग रहा है। इशरत जहां को बीजेपी की हावड़ा इकाई ने सम्मानित किया और फिर पार्टी में शामिल कर लिया

कोलकाता। तीन तलाक के खिलाफ याचिकाएं दाखिल करने वालों में से एक इशरत जहां बीजेपी में शामिल हो गई हैं। ट्रिपल तलाक को अवैधानिक और मुस्लिम महिलाओं के गौरवपूर्ण जीवन जीने के अधिकार का उल्लंघन बताते हुए पश्चिम बंगाल के हावड़ा की इशरत जहां सुप्रीम कोर्ट में पहुंची थीं।

उक्त जानकारी बीजेपी की पश्चिम बंगाल इकाई के महासचिव सायंतन बसु ने दी। बसु ने बताया ‘‘इशरत जहां कल हावड़ा स्थित हमारे कार्यालय में बीजेपी में शामिल हुईं।’’

सूत्रों ने बताया कि इशरत को बीजेपी की हावड़ा इकाई ने शनिवार को सम्मानित किया और फिर पार्टी में उन्हें शामिल किया। बसु ने कहा कि उन्हें सम्मानित करने के लिए राज्यस्तरीय कार्यक्रम का आयोजन होना बाकी है।

तीन तलाक मामले में इशरत जहां पांच याचिकाकर्ताओं में से एक थीं। उनके पति ने दुबई से 2014 में फोन पर तीन बार ‘तलाक’ बोलकर उन्हें तलाक दे दिया था. उच्चतम न्यायालय ने बीते साल 22 अगस्त को तीन तलाक को अमान्य ठहरा दिया था।

सुप्रीम कोर्ट तक तीन तलाक की लड़ाई ले जाने वाली पांच याचिकाकर्ताओं में से एक इशरत जहां शनिवार (30 दिसंबर) को पश्चिम बंगाल बीजेपी में शामिल हो गईं। हावड़ा के वार्ड नंबर 17 के बीजेपी दफ्तर में महिला मोर्चा के नेताओं की अगुवाई में शामिल होने के बाद इशरत ने कहा कि इस पार्टी में शामिल होकर उन्हें अच्छा लग रहा है।

उन्होंने तीन तलाक पर कानून बनाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का आभार जताया। शामिल होने के बाद बीजेपी महिला मोर्चा की अध्यक्ष दुर्गावती सिंह ने इशरत जहां के हाथों में पार्टी का झंडा थमाया। बताया जा रहा है कि लोकसभा में तीन तलाक के खिलाफ मुस्लिम महिला (विवाह संरक्षण अधिनियम)-2017 विधेयक के पास होने के बाद इशरत ने भगवा पार्टी में शामिल होने का फैसला किया।

पश्चिम बंगाल महिला मोर्चा की अध्यक्ष लॉकेट चटर्जी ने इशरत जहां को मिठाई खिलाकर पार्टी में शामिल होने का स्वागत किया। इससे पहले इशरत ने भाजपा की प्राथमिक सदस्यता ग्रहण की। चटर्जी ने कहा कि इशरत जहां आर्थिक तंगी से गुजर रही हैं। इसलिए वह केंद्र सरकार से गुजारिश करेंगी कि उन्हें नौकरी दी जाय। चटर्जी ने आरोप लगाया कि राज्य की ममता बनर्जी सरकार ने उन्हें कोई मदद नहीं दी।

बता दें कि तीन तलाक देने को अपराध के दायरे में लाने वाला कानून लोकसभा से पास हो गया है। इससे पहले गुरुवार (28 दिसंबर) को लोकसभा में इस बिल में कुछ संशोधनों को लेकर वोटिंग हुई थी। एआईएमआईएम चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने भी वोटिंग की मांग की थी लेकिन सदस्यों ने उनके संशोधनों को पूरी तरह से खारिज कर दिया। एक संशोधन पर हुई वोटिंग में तो ओवैसी के पक्ष में सिर्फ 2 वोट पड़े। जबकि, इसके खिलाफ 241 वोट पड़े। दूसरे प्रस्ताव में भी उनके पक्ष में सिर्फ 2 वोट पड़े। वहीं, 242 लोगों ने उनके प्रस्ताव के खिलाफ वोट दिया। हालांकि, इससे पहले उनके संशोधन के प्रस्ताव को लोकसभा के सदस्यों ने ध्वनि मत से खारिज कर दिया था। सदन में इससे पहले इस बिल पर विस्तृत चर्चा हुई।


 

Facebook Comments

NO COMMENTS