भारत/श्रीलंका टेस्ट : ” टीम इंडिया विशाल स्‍कोर की ओर, मुरली विजय और विराट कोहली के शतक”

0
8


ओपनर मुरली विजय और कप्‍तान विराट कोहली के ‘बड़े’ शतकों की मदद से टीम इंडिया ने श्रीलंका के खिलाफ दिल्‍ली टेस्‍ट के पहले ही दिन अपनी स्थिति बेहद मजबूत कर ली है.

नई दिल्‍ली। ओपनर मुरली विजय और कप्‍तान विराट कोहली के ‘बड़े’ शतकों की मदद से टीम इंडिया ने श्रीलंका के खिलाफ दिल्‍ली टेस्‍ट के पहले ही दिन अपनी स्थिति बेहद मजबूत कर ली है. मैच के पहले दिन मुरली विजय ने 155 रन की बेहतरीन पारी खेली जबकि कप्‍तान विराट 156 रन बनाकर नाबाद हैं. विराट ने जहां सीरीज में लगातार तीसरा शतक जमाया जबकि विजय का यह लगातार दूसरा शतक रहा. पहले दिन स्‍टंप्‍स के समय टीम इंडिया की पहली पारी का स्‍कोर 4 विकेट पर 371 रन था. कप्‍तान कोहली के साथ रोहित शर्मा 6 रन बनाकर नाबाद हैं. विजय और कोहली ने तीसरे विकेट के लिए 283 रन की साझेदारी की. मैच के दूसरे दिन कल देखने वाली बात यह होगी कि क्‍या विराट नागपुर टेस्‍ट की तरह दोहरा शतक जमाने में सफल होते हैं या नहीं.

भारतीय पारी : विजय और विराट के बीच हुई 283 रन की साझेदारी
श्रीलंका के लिए पहला ओवर तेज गेंदबाज सुरंगा लकमल ने फेंका जिसकी तीसरी और चौथी गेंद पर विजय ने चौके जमा दिए. लाहिरु गमागे की ओर से फेंके गए पारी के दूसरे ओवर में भी विजय ने चौका जमाया. नागपुर टेस्‍ट में शतक जमाने वाले विजय पारी की शुरुआत से ही विश्‍वास से भरे नजर आ रहे थे. पारी के छठे ओवर में शिखर धवन ने गमागे की गेंद पर चौका लगाया. पारी के आठवें ओवर से स्पिनर दिलरुवान परेरा को आक्रमण पर लगाया गया. भारतीय टीम का पहला विकेट शिखर धवन (23 रन, 35 गेंद, चार चौके) के रूप में गिरा. उन्‍हें दिलरुवान परेरा ने स्‍क्‍वेयर लेग पर सुरंगा लकमल से कैच कराया. यह दिलरुवान परेरा का 100वां टेस्‍ट विकेट रहा. पारी के 21वें ओवर में पुजारा (23 रन, 39 गेंद, चार चौके) आउट हो गए. उन्‍हें तेज गेंदबाज लाहिरु गमागे ने समरविक्रमा से कैच कराया. नए बल्‍लेबाज विराट कोहली और विजय ने मिलकर स्‍कोर को 100 रन के पार पहुंचाया. लंच के पहले मुरली विजय ने अपना अर्धशतक पूरा किया. उन्‍होंने इसके लिए 67 गेंदों का सामना करते हुए सात चौके लगाए. लंच के समय टीम इंडिया का स्‍कोर दो विकेट पर 116 रन था.

लंच के बाद भी विजय और कोहली ने शानदार बल्‍लेबाजी जारी रखी. 25 रन के निजी स्‍कोर पर पहुंचते ही विराट कोहली टेस्‍ट क्रिकेट में 5 हजार रन पूरे करने वाले भारत के 11वें खिलाड़ी बन गए. कोहली ने सुरंगा लकमल की गेंद पर चौका जमाते हुए यह उपलब्धि हासिल की. जल्‍द ही विराट कोहली ने अपना 15वां अर्धशतक भी पूरा किया. इसके लिए उन्‍होंने केवल 52गेंदें खेलीं और 10 चौके लगाए. इन दोनों बल्‍लेबाजों ने तीसरे विकेट के लिए शतकीय साझेदारी भी पूरी की. लगभग पूरे दिन भारतीय बल्‍लेबाजों ने तेज गति से बैटिंग की और रन गति हर समय चार रन प्रति ओवर या इसके ऊपर ही बनी रही. श्रीलंका ने चाइनामैन बॉलर संदाकन को प्‍लेइंग इलेवन में स्‍थान दिया था लेकिन वे भी भारतीय बल्‍लेबाजों के लिए मुश्किल खड़ी नहीं कर पा रहे थे. जल्‍द ही दोनों बल्‍लेबाजों ने 150 रन की साझेदारी पूरी कर ली. चायकाल के पहले विजय ने संदाकन की गेंद पर चौका लगाते हुए अपना 11वां टेस्‍ट शतक पूरा किया. विजय ने शतक के लिए 163 गेंदों का सामना किया और 9 चौके जमाए. विजय का यह लगातार दूसरा शतक था. नागपुर टेस्‍ट में भी उन्‍होंने शतकीय पारी खेली थी.चाय के समय टीम इंडिया का स्‍कोर दो विकेट पर 245 रन बनाए थे.

मुरली विजय के 150 रन 251 गेंदों पर 13 चौकों की मदद से पूरे हुए. इसके थोड़ी देर बाद विराट ने भी अपने 150 रन पूरे किए. उन्‍होंने इसके लिए 178 गेंदों का सामना किया और 16 चौके जमाए. खेल समाप्ति के थोड़ी देर पहले टीम इंडिया का तीसरा विकेट मुरली विजय (155 रन, 267 गेंद, 13 चौके) के रूप में गिरा जिन्‍हें चाइनामैन संदाकन की गेंद पर विकेटकीपर निरोशन डिकवेला ने स्‍टंप किया. विजय और कोहली के बीच तीसरे विकेट के लिए 283 रन की साझेदारी हुई.मुरली विजय के स्‍थान पर खेलते आए अजिंक्‍य रहाणे (1) फिर नाकाम हुए. उन्‍हें चाइनामैन बॉलर संदाकन ने विकेटकीपर डिकेवला से स्‍टंप कराया. श्रीलंका के गेंदबाज आज पूरे दिन संघर्ष करते नजर आए. लक्षण संदाकन ने सर्वाधिक दो विकेट लिए. लाहिरु गमागे और दिलरुवान परेरा को एक-एक विकेट मिला.

विकेट पतन: 42-1 (धवन, 9.6), 78-2 (पुजारा, 20.2),,361-3 (मुरली, 85.6), 365-4 (रहाणे, 87.3)

भारतीय टीम की प्‍लेइंग इलेवन में केएल राहुल और उमेश यादव को स्‍थान नहीं मिला. पिछले मैच में नहीं खेले शिखर धवन और मो. शमी को टीम में स्‍थान दिया गया.दूसरी ओर, श्रीलंका के लिए रोशन सिल्‍वा अपने टेस्‍ट करियर का आगाज कर रहे हैं.

फ़िरोज़शाह कोटला पर वैसे भी भारत का पलड़ा भारी रहा है. कोटला पर खेले गए 33 टेस्ट मैचों में, भारत को 13 टेस्टों में जीत हासिल हुई है जबकि 6 में उसे हार का सामना करना पड़ा. यहां 14 टेस्ट ड्रॉ रहे. निजी तौर पर भी कप्तान विराट के लिए अपने करियर का 21वां टेस्ट, जीत हासिल करने का यह शानदार मौक़ा है. भारत कोटला का नतीजा ड्रॉ भी रखता है तो इस टीम की ये लगातार 9वीं टेस्ट सीरीज़ जीत होगी. इस तरह भारत के सामने ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के साथ वर्ल्ड रिकॉर्ड की बराबरी करने का अच्छा मौक़ा है. कप्तान विराट के निजी तौर पर 21वें टेस्ट में जीत हासिल करने का मौक़ा होगा जो उन्हें कप्तान सौरव गांगुली के रिकॉर्ड की बराबरी का मौक़ा दे सकता है. भारतीय फ़ैन्स श्रीलंका से बेहतर चुनौती के साथ मैच में रोमांच की उम्मीद ज़रूर करेंगे. लेकिन ये भी चाहेंगे कि टीम इंडिया कोटला पर एक और इतिहास रचे.

दोनों टीमें इस प्रकार हैं:

भारत:
विराट कोहली (कप्‍तान), शिखर धवन, मुरली विजय, चेतेश्‍वर पुजारा, अजिंक्‍य रहाणे, रोहित शर्मा, रविचंद्रन अश्विन, ऋद्धिमान साहा, रवींद्र जडेजा, मो. शमी और ईशांत शर्मा.

श्रीलंका:
दिनेश चंदीमल (कप्‍तान), सदीरा समरविक्रमा, दिमुथ करुणारत्‍ने, धनंजय डिसिल्‍वा, एंजेलो मैथ्‍यूज, निरोशन डिकवेला, रोशन सिल्‍वा, दिलरुवान परेरा, सुरंगा लकमल, लक्षन संदाकन और लाहिरु गमागे.

Facebook Comments

NO COMMENTS