राजस्थान : “हत्यारे आतंकी शम्भूनाथ के समर्थन में कोर्ट में संघी भगवा संगठन ने पर फहराया भगवा झंडा, खूब चले पत्थर और लाठियां”

0
71


उदयपुर। राजसमंद में अफराजुल की हत्या के बाद आरोपी शंभु के समर्थन में प्रदर्शनकारियों ने गुरुवार को उदयपुर में धारा-144 लागू होने के बावजूद कोर्ट चौराहे पर उग्र प्रदर्शन किया प्रदर्शन के दौरान उत्पाती कोर्ट के पीछे की बिल्डिंगों से छत पर चढ़े और कोर्ट के मुख्य द्वार पर भगवा झंडा फहराया।

पिछले दिनों राजसमन्द में हुई लवजिहाद के नाम पर निर्मम हत्या ने एक नया मोड़ लेते हुए मानवता को शर्मसार कर दिया है। जहां एक ओर कुछ असामाजिक तत्व शम्भू की गिरफ्तारी के बाद से शम्भू के परिवार के लिए आर्थिक मदद का कैम्पेन सोशल मीडिया पर छेड़ रखा था वहीं दूसरी ओर आज राजसमन्द में मानवता को शर्मसार करने वाला अजीब ड्रामा देखने को मिला जब असामाजिक तत्त्वों एवं भगवा आतंकी के समर्थन में लोग सड़कों पर उतर आए और कोर्ट परिसर की छत पर चढ़कर कोर्ट की छत पर भगवा झण्डा लगा दिया।

हद तो तब हो गई जब प्रदर्शन के दौरान उत्पाती कोर्ट के पीछे की बिल्डिंगों से छत पर चढ़े और कोर्ट के मुख्य द्वार पर भगवा झंडा फहरा दिया। पुलिस बल असहाय बना देखता रहा। पुलिस ने लाठीचार्ज करके हालात काबू करने की कोशिश की लेकिन माहौल और बिगड़ गया। प्रदर्शनकारी कोर्ट के अंदर तक चले गए।

पुलिस ने बताया कि 175 लोगों को गिरफ्तार किया गया है और कई अन्य को नुकसान पहुंचाने और आदेशों का पालन न करने के लिए हिरासत में लिया गया है। प्रदर्शनकारियों की भीड़ ने जबरन दुकानें और संस्थान बंद करावाई। सड़कों पर बेकाबू भीड़ ने पत्थरबाजी की और टायर भी जला दिए। पुलिस सूत्रों के अनुसार कोर्ट परिसर के अंदर एडिशनल एसपी सुधीर जोशी के साथ भी हाथापाई की गई है। उन्हें सिर में पत्थर भी लगा है।

काफी देर तक झंडा फहराकर प्रदर्शन किया। इस दौरान कुछ उत्पातियों ने छत से पुलिस पर पत्थर फेंके। पुलिस ने लाठीचार्ज करके हालात काबू करने की कोशिश की लेकिन माहौल और बिगड़ गया। प्रदर्शनकारी कोर्ट के अंदर तक चले गए। इसके बाद कोर्ट परिसर में ही प्रदर्शनकारियों के साथ वकीलों और पुलिस के बीच भी झड़प हुई।

पुलिस सूत्रों के अनुसार कोर्ट परिसर के अंदर एडिशनल एसपी सुधीर जोशी के साथ भी हाथापाई की गई है। उन्हें सिर में पत्थर भी लगा है. पुलिस और प्रदर्शनकारियों में 15 मिनट तक पत्थरबाजी हुई, जिसमें 10 पुलिस अफसरों सहित 31 जवान घायल हो गए। इनमें से 4 सिपाही गंभीर रूप से घायल हैं जबकि 3 पुलिस इंस्पेक्टर और एक डिप्टी गोपाल सिंह को भी चोटें अाई हैं।

पुलिस ने चेतक सर्किल, काेर्ट चौराहा और टाउन हॉल पर भी व्यापारियों ने दुकानें बंद करा दीं। शहर में 700 से अधिक पुलिस बल तैनात किया गया। देर रात तक 88 प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। शंभु के समर्थन में जयपुर में भी दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

उदयपुर में इंटरनेट अगले 24 घंटे और बंद

  • गुरुवार को हालात बिगड़ने के बाद आईजी आनंद श्रीवास्तव ने बताया-उदयपुर में अगले और 24 घंटे इंटरनेट बंद रहेगा।
  • गौरतलब है कि बुधवार रात से ही उदयपुर और राजसमंद में इंटरनेट बंद कर दिया गया था। साथ ही धारा 144 लागू कर दी गई थी।
  • एसपी राजेन्द्र प्रसाद गोयल ने बताया- स्थानीय संगठनों से बातचीत कर शांति बनाए रखने की अपील की है। प्रतिनिधियों ने दावा किया है कि उत्पाती दूसरे जिलों से आए थे, ताकि माहौल खराब किया जा सके।

जयपुर में भी दो गिरफ्तार

  • राजसमंद मामले में शिव सेना हिन्दुस्तान के महासचिव लखन सिंह पंवार को गुरुवार रात को शिप्रापथ थाना पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।
  • थानाधिकारी संजय गोदारा ने बताया कि लखन सिंह पंवार ने धर्म विशेष पर अभद्र भाषा का प्रयोग करते हुए एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया है।
  • वहीं, उप्र के हिन्दूवादी संगठन के नेता उपदेश राणा को गुरुवार को राजसमंद जाने से पहले उदयपुर पुलिस की सूचना पर बगरू थाना पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।
  • पुलिस ने राणा को शांतिभंग के आरोप में गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया। जहां से उसे जेल भेज दिया गया।
  • गौरतलब है कि हत्या के आरोपी शंभू के समर्थन में सोशल मीडिया पर वीडियो-पोस्ट लगातार डाले जा रहे हैं।

 

Facebook Comments

NO COMMENTS